अंतरराष्ट्रीय फलक पर पहुंची कुशीनगर के लोकरंग की धूम

Tamkuhi कुशीनगर

कुशीनगर के फाजिलनगर के जोगिया जनूबीपट्टी में बीते 12 सालों से आयोजित होने वाले लोकरंग की धूम अब देश से बाहर पहुंच गई है। नीदरलैंड निवासी व दुनिया भर में सरनामी भोजपुरी गायक राजमोहन हरदीन लोकरंग-2019 में मारीशस और दक्षिणी अफ्रीकी देश गुआना से भी गिरमिटिया भोजपुरी गायकों को लाने में जुट गए हैं। दो बार से लोकरंग में आ रहे राजमोहन इसी 7 सितंबर को लोकरंग के प्रमोशन के लिए नीदरलैंड के उत्रेच शहर में सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित कर रहे हैं।

आमंत्रण पत्र पर लोकरंग का लोगो है और सभी टिकट फुट भी हो चुके हैं। लोकरंग के आयोजक साहित्यकार सुभाष कुशवाहा ने बताया कि इन देशों से लोक कलाकारों की टीमें, वहां के प्रायोजकों के सहयोग से आयेंगी। वहीं राजमोहन लोकरंग आयोजन की मदद के लिए 7 सितम्बर को नीदरलैंड के उत्रेच शहर में एक सहयोग सांस्कृतिक कार्यक्रम (कॉन्सर्ट) आयोजित कर रहे हैं। उन्होंने इसके लिए एक पोस्टर जारी किया है, जिसमें लोकरंग का लोगो लगा हुआ है। राजमोहन के अनुसार इसमें शामिल कलाकार बिना कुछ धनराशि लिए लोकरंग के लिए मदद जुटा रहे हैं। अभी से सभी सीटें फुल हो चुकी हैं।

नीदरलैंड में लोकरंग के लिए अपने पुरखों की धरती पर आयोजित होने वाले कार्यक्रम की मदद के लिए लोग आगे आ रहे हैं। अंग्रेजों द्वारा पूर्वांचल के तमाम गावों से लोग विदेशों में ले जाकर बसाये गये थे। श्री कुशवाहा ने कहा कि लोकरंग सांस्कृतिक संस्था के लिए यह गौरव की बात है कि सात समंदर पार से गिरमिटिया के वंशज लोकरंग को सहयोग दे रहे हैं। वे अपने खर्चे पर कई देशों से सांस्कृतिक टीमें ला रहे हैं। स्वयं राजमोहन तीसरी बार लोकरंग में आने वाले हैं। लोकरंग अंतरराष्ट्रीय फलक पर अपना स्थान बना रहा है। ऐसा कभी नहीं हुआ कि अंग्रेजों द्वारा विदेशों में ले जाये गये विभिन्न देशों के कलाकार निजी प्रयासों से पूर्वांचल की धरती पर कभी आए हों। उन्होंने बताया कि  अप्रैल में आयोजित लोकरंग 2019 को गिरमिटिया महोत्सव के रूप में आयोजित किया जाएगा।

फेसबुक पर लाइव रहेगा नीदरलैंड का कन्सर्ट
आगामी 7 सितंबर को नीदरलैंड में आयोजित कार्यक्रम को राजमोहन अपने फेसबुक पर लाइव करेंगे। उत्रेच में यह कॉन्सर्ट 8 बजे शुरू होगा जो यहां रात 11.30 बजे देखा जा सकेगा। लोकरंग सांस्कृतिक संस्था ने राजमोहन और नीदरलैंड के सहयोगी दर्शकों, कलाकारों व साहित्यकारों के प्रति आभार जताया है