ट्रिपल तलाक पर कांग्रेस का यू-टर्न, कहा- सत्ता में आए तो खत्म करेंगे कानून

राष्ट्रीय खबर

महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुष्मिता देव ने कहा कि कांग्रेस अगर सत्ता में आई तो तीन तलाक कानून को खत्म कर दिया जाएगा. कांग्रेस इस कानून का विरोध करती है.

लोकसभा चुनाव के नजदीक आने के साथ ही सियासी वादों और ऐलानों का दौर भी शुरू हो चुका है. कांग्रेस पार्टी ने गुरुवार को ऐलान किया कि अगर वह सत्ता में आई तो तीन तलाक कानून को खत्म कर दिया जाएगा. यह कानून मोदी सरकार का एक और हथियार है, जिसका इस्तेमाल वे मुस्लिम पुरुषों को जेल में डालने के लिए और थानों में खड़े करने के लिए करते हैं. मुस्लिम महिलाओं ने इसका पुरजोर विरोध किया है और कांग्रेस भी इस कानून का विरोध करती है. यह महिलाओं का सशक्तिकरण नहीं करेगा बल्कि उनके और मुस्लिम पुरुषों के बीच विभाजन पैदा करेगा.

ये बातें महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुष्मिता देव ने कही. वह दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में कांग्रेस अल्पसंख्यक मोर्चा सम्मेलन को संबोधित कर रही थीं. असम के सिल्चर से सांसद सुष्मिता देव ने कहा कि सिटिजनशीप देने के नाम पर असम को विभाजित करने का प्रयास किया जा रहा है. हम ऐसे किसी भी कानून का समर्थन नहीं करते हैं, जो संविधान के खिलाफ है.

राहुल बोले- मोदी की प्रतिष्ठा की कांग्रेस ने धज्जियां उड़ा दींसम्मेलन को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि यह देश किसी एक जाति, धर्म, प्रदेश और भाषा का नहीं है. यह देश हिन्दुस्तान के हर एक व्यक्ति का है. हमारे अल्पसंख्यकों ने हर कदम पर देश को बनाने का काम किया है. यह देश हम सबका है. पांच साल पहले कहा जाता था कि नरेंद्र मोदी जी की 56 इंच की छाती है, 15 साल राज करेंगे. आज कांग्रेस पार्टी ने नरेंद्र मोदी की प्रतिष्ठा की धज्जियां उड़ा दी हैं.

उन्होंने कहा कि आप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का चेहरा ध्यान से देखेंगे तो दिखेगा कि उनके चेहरे पर घबराहट है. उन्हें पता लग गया है कि देश को बांटकर, नफरत फैलाकर हिन्दुस्तान पर राज नहीं कि जा सकता. हिन्दुस्तान के प्रधानमंत्री को देश को जोड़ने का काम कर करना चाहिए, अगर वह ऐसा नहीं करते हैं तो उन्हें हटा देना चाहिए.