पुलवामा आतंकी हमले पर सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव कर गए राजनीती, कही ये बात

राष्ट्रीय खबर
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

लखनऊ। जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में गुरुवार को जैश-ए-मोहम्मद के एक फिदायीन हमले पर विपक्षियों की और से राजनीती शुरू हो गयी है। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने हमले को राजनीति से जोड़ा तो लोगों ने उन्हें ट्रोल कर दिया। अखिलेख ने अपने ट्वीट में कहा, “जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों को आत्मिक नमन। जम्मू-कश्मीर में जिस प्रकार हालात बेक़ाबू हो रहे हैं, उससे पूरे देश में आक्रोश जन्म ले रहा है। भाजपा सरकार को चुनावी राजनीति छोड़कर देशहित में सक्रिय होना चाहिए।” पूर्व मुख्यमंत्री का ट्वीट लोगों को रास नहीं आया और उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया।

ट्विटर यूजर्स ने किया ट्रोल

ट्विटर यूजर आस्था त्रिपाठी ने अखिलेश के ट्वीट को ट्रोल करते हुए लिखा कि, “शर्म करो पूर्व मुख्यमंत्री जी, हर जगह राजनीति और बीजेपी पर आरोप लगाना बंद करो। ऐसी स्थिति में सब एक होकर एक जुटता का सन्देश देते हुए दो कोडी वाले पाकिस्तान पर हमला करने के लिए सरकार का साथ दो। वरना इस आम चुनाव में मुँह दिखाने के लायक भी जनता नहीं छोड़ेगी आपको।” वहीं दूसरी और डॉ. विजय शर्मा ने लिखा, “शर्म आनी चाहिए, इस पर भी राजनीति?? आज भी बीजेपी और कांग्रेस ही कर रहे हैं??? बहुत धूर्त है आप”। अनिष्ट देव ने लिखा, “शहीदों के लिए पहली बार एक ट्वीट किए और उसमें भी राजनीति कर भाजपा को कोसना बन्द नही किया….’ इससे अच्छा तो बोलते की हम सरकार के साथ है … आतंकियों पर कड़ी करवाई करो’।

78 वाहनों के काफिले में जा रहे थे 2500 से अधिक कर्मी

बता दें कि, जम्मू कश्मीर के पुलवामा में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के 2500 से अधिक कर्मी 78 वाहनों के काफिले में जा रहे थे। इनमें से अधिकतर अपनी छुट्टियां बिताने के बाद अपने काम पर वापस लौट रहे थे। जम्मू कश्मीर राजमार्ग पर अवंतिपोरा इलाके में लाटूमोड पर इस काफिले पर घात लगाकर हमला किया गया। पुलिस ने आत्मघाती हमला करने वाले वाहन को चलाने वाले आतंकवादी की पहचान पुलवामा के काकापोरा के रहने वाले आदिल अहमद के तौर पर की। उन्होंने बताया कि अहमद 2018 में जैश-ए-मोहम्मद में शामिल हुआ था। धमाका इतना जबरदस्त था कि बस के परखच्चे उड़ गए।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.