यूपी के देवरिया में भी ‘मुज़फ्फरपुर कांड’, शेल्टर होम से छुड़ाई गईं 24 लड़कियां

कुशीनगर
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

बिहार के मुज़फ्फरपुर में 34 लड़कियों के साथ दरिंदगी का मामला अभी ठंड़ा भी नहीं पड़ा कि उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक ने एक शेल्टर होम में छापा मार कर 24 लड़कियों को मुक्त कराया है. बताया जा रहा है कि यह शेल्टर होम अवैध रूप से संचालित किया जा रहा था.

सोमवार की सुबह देवरिया के डीएम और एसपी पुलिस बल के साथ रेलवे स्टेशन रोड पर स्थित मां विंध्यवासिनी नामक शेल्टर होम पर छापे की कार्रवाई की. इस दौरान वहां 24 लड़किया मौजूद पाई गई. जिन्हें वहां से रेस्क्यू किया गया. बालिका गृह में रहने वाली सभी लड़कियां अलग अलग जिलों की रहने वाली हैं. पुलिस सभी से जानकारी ले रही है.

अधिकारियों के मुताबिक देवरिया में यह शेल्टर होम अवैध तौर पर चलाया जा रहा था. जिसमें दो दर्जन लड़कियों को रखा गया था. इस बालिका गृह के बारे में प्रशासन को पहले से ही जानकारी मिल गई थी. लेकिन कार्रवाई अब की गई.

जानकारी मुताबिक यह बालिका गृह कई वर्षों से संचालित किया जा रहा था. इसकी एक ब्रांच रजला गांव में भी संचालित की जा रही थी. जबकि इस शेल्टर होम की मान्यता साल 2017 में ही निरस्त कर दी गई थी. बताया जा रहा है कि वहां से मुक्त कराई गई लड़कियों के अलावा अभी भी कई लड़कियां गायब हैं.

उधर, यूपी की महिला एवं बाल कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने इस मामले पर जानकारी देते हुए बताया कि पिछले साल सीबीआई देवरिया के उक्त बालिका गृह का निरीक्षण किया था. सीबीआई की टीम ने जांच के दौरान पाया था कि देवरिया में जलाया जा रहा बालिक गृह अवैध रूप से संचालित था.

रीता बहुगुणा जोशी के मुताबिक सीबीआई के रिपोर्ट के आधार पर ही वहां रखी गई लड़कियों को स्थानांतरित करने और इस शेल्टर होम को बंद करने के लिए फरमान जारी किया था. लेकिन उस आदेश का पालन नहीं किया गया.

इस संबंध में 1 अगस्त को एफआईआर दर्ज की गई. जिसमें इस अवैध बालिका गृह को तत्काल बंद करने के लिए निर्देश भी थे. एफआईआर के मुताबिक वहां अवैध कृत्य चल रहे थे. रिकॉर्ड के अनुसार केंद्र में नामांकित बच्चों की संख्या भी पूरी नहीं है.

महिला एवं बाल कल्याण मंत्री के मुताबिक इस दौरान 1 बच्ची को रेस्क्यू किया गया था, जिसने इस मामले में शिकायत दर्ज कराई है. अब इस पूरे प्रकरण की जांच चल रही है.

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.