सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की दो शाखाओं में लगी आग

कुशीनगर

मथौली बाजार/सुकरौली। सेंटल बैंक ऑफ इंडिया की दो शाखाओं में शार्ट सर्किट से लगी आग के बाद वहां अफरा तफरी मच गई। आसपास के लोगों के अलावा पुलिस और अग्निशमन दस्ता के जवान भी पहुंच गए। घंटों मशक्कत के बाद आग बुझाई गई। इस आगलगी में लाखों रुपये की क्षति हुई है। कई महत्वपूर्ण दस्तावेज भी जलने की बात कही जा रही है।

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की मथौली बाजार शाखा दो वर्ष से स्वामीनाथ शर्मा के मकान में संचालित है। शनिवार को सुबह करीब नौ बजे बैंक के अंदर से आग की लपटें और धुंआ उठते देख लोगों ने शोर मचाना शुरू कर दिया। मकान मालिक स्वामीनाथ शर्मा ने इसकी सूचना बैंक के शाखा प्रबंधक पंकज कुमार को दी।

प्रबंधक ने बैंककर्मी से चाबी भेजवाकर मेन गेट खोलवाया, लेकिन आग की लपटें इतनी तेज थीं कि कोई अंदर जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा था। सूचना मिलते ही कप्तानगंज थाने की पुलिस और अग्निशमन दस्ता पहुंचा। आग बुझाने के लिए बैंक के पीछे की दीवार तोड़नी पड़ी। तब तक बैंक के अंदर के अधिकांश कागजात जल गए थे। एसडीएम हाटा प्रमोद कुमार त्रिपाठी और क्षेत्रीय विधायक रामानंद बौद्ध भी मौके पर पहुंचे। शाखा प्रबंधक ने बताया कि कैश बच गया है, लेकिन करीब 15 लाख रुपये की संपत्ति का नुकसान हुआ है।

अधिकारियों को इसकी सूचना दे दी गई है। शाखा प्रबंधक ने बताया कि आग शार्ट सर्किट के चलते लगी है। इस दौरान एसओ राहुल सिंह के अलावा महेंद्र यादव, पंकज कुमार, ज्ञानचंद, मनीष केजरीवाल, प्रवीण बगाड़िया, राणा प्रताप राव आदि मौजूद थे।

उधर, हाटा कोतवाली क्षेत्र के सुकरौली स्थित सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की शाखा में भी शनिवार की सुबह अचानक आग की लपटें और धुंआ उठने से अफरातफरी मच गई। उस समय बैंक बंद था। सूचना मिलने पर पुलिस कर्मियों के साथ पहुंचे चौकी इंचार्ज अशोक कुमार दूबे ने बैंक के शाखा प्रबंधक को सूचना दी।

थोड़ी देर में अग्निशमन दस्ता भी पहुंच गया, लेकिन गेट बंद होने से आग पर काबू पाने में परेशानी हो रही थी। शाखा प्रबंधक पीके अस्थाना ने बताया कि बैंक में रखे सभी महत्वपूर्ण सामान सुरक्षित हैं। विद्युत मीटर और अन्य उपकरण जले हैं। उन्होंने बताया कि बैंक में लगा विद्युत मीटर काफी दिनों से खराब है, जिसे बदलने के लिए विद्युत निगम को सूचना दी गई थी, लेकिन वह अभी बदला नहीं गया था।